<

Press Release 2- 13.06.2018-Delhi State

Press Release 2- 13.06.2018-Delhi State

 Parvesh Verma, Delhi BJP General Secretaries Join Municipal Councilors March

BJP MUNICIPAL COUNCILORS LED BY DELHI BJP PRESIDENT MANOJ TIWARI HOLD DEMONSTRATION AT I.T.O. CHOWK AGAINST KEJRIWAL GOVT.'s FAILURE ON WATER & ELECTRICITY SUPPLY

 

Delhi Police Stalls At I.T.O. The BJP March Towards Delhi Secretariat Against CM Arvind Kejriwal's Dirty Dharna Politics To Divert Public Attention From Failures Of His Govt.

 

It is dejecting to see the Chief Minister Arvind Kejriwal playing his favorite Urban Naxalite role to divert public attention from his failures to deliver water-power – Manoj Tiwari

 

New Delhi, 13th June.  Delhi BJP's Municipal Councilors led by Pradesh President Shri Manoj Tiwari today took out a peaceful Protest March from Saheedi Park towards Delhi Secretariat against acute water & power crisis apart from break down of development in Delhi due to negligence of Arvind Kejriwal led Government. Delhi Police put up barricades and stalled the March near I.T.O. Chowk.

MP Shri Parvesh VermaDelhi BJP General Secretaries Shri Kuljeet Singh Chahal, Shri Ravinder Gupta & Shri Rajesh Bhatia addressed the demonstration in presence of Secretary Smt. Shobha Upadhyay, Spokespersons Shri Praveen Shankar Kapoorn & Shri Ashok Goel and Chandni Chowk BJP District President Shri Arvind Garg. Prominent amongst the Councilors present in the March were South DMC Chairman Standing Committee Smt. Shikha Rai, East DMC Mayor Shri Bipin Bihari Singh, Chairman Standing Committee Shri Satpal Singh, Leader of the House Shri Nirmal Jain, Zonal Chairman's Shri Pramod Gupta & Smt. Kanchan Maheshwari, North DMC Chairman Standing Committee Smt. Veena Virmani, Leader of the House Shri Tilak Raj Kataria.

 

Addressing the demonstration Shri Manoj Tiwari said that people of Delhi are facing acute water & power shortage and are disgruntled with Arvind Kejriwal Government for failing them on most promises made in his 70 point Manifesto 2015, it is dejecting to see the Chief Minister Arvind Kejriwal playing his favorite Urban Naxalite role to divert public attention from his failures to deliver water-power.

 

Shri Tiwari said the way Arvind Kejriwal entered the Raj Niwas by taking an appointment to discuss important issues with the Lt. Governor and has thereafter started a Dharna in the Raj Niwas is a typical act based on Naxalism theory wherein Naxalite call meetings and often kidnap or harass officials. It is just that in this case Arvind Kejriwal has chosen to sit in the Raj Niwas. CM Kejriwal should remember that public is suffering every movement due to water crisis and the people of Delhi especially women will never forgive him for forcing them to buy water from water tanker mafia.

 

Shri Parvesh Verma said that water power crisis is the biggest problem being faced by the people today but Kejriwal has overall failed the people, especially youth who are dejected due to poor conditions in Delhi Government schools, lack of colleges & sporting facilities, employment and deceit on Wi-Fi promise also. People of Delhi will ensure total rout of Kejriwal party both in 2019 and 2020 elections.

 

Contd.2

 

2.

 

Shri Kuljeet Singh Chahal said that the CM Arvind Kejriwal is responsible for the water-power crisis due to lack of proper planning. There is not much shortage of raw water in Delhi yet the people are suffering as the Chief Minister has no time to ensure proper water treatment and judicial supply for all areas.

 

Shri Ravinder Gupta said that people are paying heavy electricity bills but despite that there are power cuts all across the city every day. The Government is paying heavy subsidy to the private discoms who are playing truant on buying extra power needed due to increase in demand and instead are imposing unscheduled power cuts.

 

Shri Rajesh Bhatia said that people of Delhi are dejected with the Government of Arvind Kejriwal which has failed them on every issue like water, power, health, education which are well within their ambit of decision making but is instead busy in power politics to attain unchecked power for itself.

 

SDMC Chairman Standing Committee Smt. Shikha Rai, EDMC Mayor Shri Bipin Bihari Singh & NDMC Chairman Standing CommitteeSmt. Veena Virmani said that Arvind Kejriwal has not only failed Delhi on the works directly related to it but by denying the municipal corporations their proper funds due to which the basic sanitation, primary education and basic health care centers services are suffering due paucity of funds. They said it is shocking to see that a Chief Minister who has constantly for 3 years denied statutory funds as per 4th DFC recommendation is crying for more power for himself.  

 

 

 


सांसद प्रवेश वर्मा, दिल्ली भाजपा महामंत्री भी निगम पार्षदों के मार्च में शामिल हुये

दिल्ली में पानी-बिजली के संकट के विरोध में प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में निगम पार्षदों ने विरोध मार्च निकाला

मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अपनी सरकार की नाकामियों विशेषकर बिजली-पानी संकट से जनता का ध्यान भटकाने के लिए अर्बन नेक्सेलाइट की तरह धरने का नाटक कर रहे हैं-मनोज तिवारी


    नई दिल्ली, 13 जून।  दिल्ली में ज्वलंत पानी-बिजली संकट के विरोध में आज भाजपा के नगर निगम पार्षदों ने प्रदेश अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी के नेतृत्व में दिल्ली गेट के समीप शहीदी पार्क से दिल्ली सचिवालय तक विरोध मार्च का आयोजन किया।  अरविन्द केजरीवाल सरकार की लापरवाही के कारण दिल्ली में उत्पन्न पानी-बिजली संकट एवं ठप्प विकास के विरोध में आयोजित इस सचिवालय मार्च को दिल्ली पुलिस ने भारी बेरीकेडिंग और बल पूर्वक आई.टी.ओ. चैक पर रोक दिया।

    सांसद श्री प्रवेश वर्मा, दिल्ली भाजपा के महामंत्री श्री कुलजीत सिंह चहल, श्री रविन्द्र गुप्ता एवं श्री राजेश भाटिया ने प्रदेश मंत्री श्रीमती शोभा उपाध्याय, प्रवक्ता श्री प्रवीण शंकर कपूर एवं श्री अशोक गोयल और चांदनी चैक जिला अध्यक्ष श्री अरविन्द गर्ग की उपस्थिति में प्रदर्शन को सम्बोधित किया। उपस्थित निगम पार्षदों में प्रमुख थे दक्षिणी दिल्ली निगम की स्थायी समिति अध्यक्ष श्रीमती शिखा राय, पूर्वी दिल्ली महापौर श्री बिपिन बिहारी सिंह, स्थायी समिति अध्यक्ष श्री सत्यपाल सिंह, सदन में नेता श्री निर्मल जैन, जोन चेयरमैन श्री प्रमोद गुप्ता एवं श्रीमती कंचन महेश्वरी, उत्तरी दिल्ली निगम स्थायी समिति अध्यक्ष श्रीमती वीना विरमानी एवं सदन में नेता श्री तिलकराज कटारिया आदि।

    प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुये श्री मनोज तिवारी ने कहा कि एक ओर आज जब दिल्ली की जनता भारी पानी एवं बिजली संकट का सामना कर रही है और केजरीवाल सरकार द्वारा अपने 70 सूत्रीय घोषणा पत्र पर जनता से विश्वासघात करने के कारण त्रस्त है वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अपनी सरकार की नाकामियों विशेषकर बिजली-पानी संकट से जनता का ध्यान भटकाने के लिए अर्बन नेक्सलाइट की तरह धरने का नाटक कर रहे हैं।

    श्री तिवारी ने कहा कि नक्सलवादियों के काॅपीबुक फार्मूले के अनुसार अरविन्द केजरीवाल ने धोखे से उपराज्यपाल से मिलने का समय लिया और उनके कार्यालय में पहुंचकर वहां धरने का नाटक प्रारम्भ कर दिया।  अक्सर देखा जाता है कि नक्सल प्रभावी क्षेत्रों में इसी तरह नक्सली अधिकारियों से मिलने जाते हैं और उनका अपहरण या अपनी मनमानी करते हैं। मुख्यमंत्री केजरीवाल को ध्यान रखना चाहिये कि दिल्ली की जनता हर पल पानी का संकट झेल रही है। जनता खासकर महिलायें पानी टैंकर माफियाओं से पानी खरीदने के लिए बाध्य करने के लिए केजरीवाल सरकार को कभी माफ नहीं करेंगी।

    श्री प्रवेश वर्मा ने कहा कि आज दिल्ली की जनता के सामने पानी का बड़ा संकट है पर वैसे भी केजरीवाल सरकार से जनता त्रस्त है, खासकर युवा वर्ग।  युवा वर्ग सरकारी स्कूलों की दुर्दशा, कालेजों एवं खेल कूद सुविधाओं के अभाव, रोजगार एवं वाई-फाई जैसे मुद्दों पर विश्वासघात के कारण केजरीवाल सरकार से कुंठित है।  दिल्ली की जनता 2019 एवं 2020 के चुनावों में केजरीवाल दल को पूरी तरह नकार देंगे।
2/-
- - 2 - -

    श्री कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि केजरीवाल सरकार द्वारा सुनियोजित योजना न बनाने के कारण आज दिल्ली में भारी पानी एवं बिजली संकट बन गया है।  दिल्ली में कच्चे पानी का कोई विशेष अभाव नहीं है पर मुख्यमंत्री द्वारा पानी के समुचित शोधन एवं वितरण व्यवस्था पर ध्यान न देने के कारण यह संकट उत्पन्न हुआ है।

    श्री रविन्द्र गुप्ता ने कहा है कि दिल्ली की जनता भारी बिजली के बिल जमा करा रही है पर उसके बाद भी दिल्ली के हर कोने में बिजली कटौती की जा रही है।  दिल्ली सरकार निजी डिस्काॅम को भारी सब्सिडी देकर उनका खजाना भर रही है वहीं डिस्काॅम गंदा खेल खेल रहे हैं और बढ़ी बिजली की मांग के लिए आवश्यक अतिरिक्त बिजली की खरीद ग्रिड से नहीं कर रहे हैं।

    श्री राजेश भाटिया ने कहा कि दिल्ली की जनता अरविन्द केजरीवाल सरकार से पानी, बिजली, स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे सभी मुद्दों जो उसके अधिकार क्षेत्रों में आते हैं पर काम करने की जगह अपने सत्ता स्वार्थ के खेल खेलने के कारण कुंठित हैं।

      दक्षिणी दिल्ली निगम स्थायी समिति अध्यक्ष श्रीमती शिखा राय, पूर्वी दिल्ली महापौर श्री बिपिन बिहारी सिंह एवं उत्तरी दिल्ली निगम स्थायी समिति अध्यक्ष श्रीमती वीना विरमानी ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने न सिर्फ अपने अधिकार क्षेत्रों में आने वाले कामों के मामले में दिल्ली को निराश किया है बल्कि दिल्ली सरकार द्वारा नगर निगमों को उनके कानूनी फंड न देने के कारण आज दिल्ली की सफाई, प्राइमरी शिक्षा एवं स्वास्थ्य सेवायें भी प्रभावित हो रही हैं।  उन्होंने कहा कि यह देख कर अचंभा होता है कि तीन वर्ष से नगर निगमों का चैथे दिल्ली वित्त आयोग द्वारा निश्चित कानूनी फंड नहीं दे रही वह अरविन्द केजरीवाल सरकार अपने अधिकार बढ़वाने के लिए रात-दिन विलाप कर रही है। 

 

 

मीडिया विभाग


9811040330


 


Media Department 


9811040330